अपना शहर खबरीलाल ब्रेकिंग न्यूज़ स्टॉप क्राइम

अब मिला महिला का धड़, कल मिला था सिर, पैर व हाथ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पारा के नरपतेखड इलाके में तीन बोरियों में दरी और चादर से लिपटा हुआ एक महिला का धड़ मिला। ऐसा माना जा रहा है कि धड़ उसी महिला का है जिसके शरीर के तीन टुकड़े शनिवार को कृष्णानगर इलाके में मिले थे। फिलहाल अभी तक महिला की शिनाख्त नहीं हो सकी है।

पारा के नरपत खेड़ा स्थित कांशीराम आवासीय कालोनी के पास अमरेंद्र कुमार सिंह अपने परिवार संग रहते हैं। रविवार को उनकी पत्नी कीर्ति सिंह घर से दूध लेने के लिए जा रही थीं। हैमिल्टन एकेडमी स्कूल के पीछे एक खाली प्लाट में उन्होंने लाल रंग के दरी में कुछ लिपटा पड़ा देखा। पास जाकर देखने पर नाली में खून को देख सन्न रह गयी। घर पहुंचकर उन्होंने इस बारे में पति को बताया। इसके बाद सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गयी।

सूचना पर एसपी पूर्वी सुरेश रावत सहित सीओ आलमबाग राजीव सिन्हा, इस्पेक्टर पारा रणजीत सिंह भदौरिया पहुंच गये। महिला का धड़ आटे की तीन बोरियों, दरी और चादर से लिपटा हुआ था। पुलिस के अधिकारियों ने फौरन छानबीन के लिए मौके पर फारेंसिक टीम को भी बुला लिया। कुछ ही देर में मौके पर फारेंसिक टीम और क्राइम ब्रांच भी पहुंच गयी। पुलिस और फारेंसिक टीम ने छानबीन के बाद महिला के धड़ को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस ने आसपास के लोगों की मदद से महिला के धड़ की शिनाख्त की कोशिश की पर कोई सफलता हाथ नहीं लगी। घटनास्थल के कुछ दूरी पर निजी स्कूल में लगें सीसी कैमरों की फुटेज भी पुलिस ने खंगाली लेकिन कुछ सुराग नहीं मिल सका। अब पुलिस कृष्णानगर से लेकर पारा के नरपतखेड़ा के बीच लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने में जुट गयी हैं। पुलिस का उम्मीद है कि बैग में महिला का सिर, हाथ व पैर फेंकने के बाद हत्यारे महिला का धड़ पारा के नरपतखेड़ा तक लेकर आया और फिर खाली प्लाट में फेंक दिया।

सौ मीटर दूरी पर चौकी पर भनक तक नहीं लगी

स्थानीय लोगों का कहना है कि घटनास्थल से महज 100 मीटर की दूरी पर हंसखेड़ा चौकी है। चौकी पर पुलिस वालों की तैनात रहते हैं। ऐसे में हत्यारे बड़ी आराम से प्लाट में महिला का धड़ फेंककर चला गया और किसी को भनक तक नहीं लगी। लोगों का आरोप है कि अगर पुलिस सजग रहती तो शायद आरोपी मौके पर ही पकड़ा जाता। लोगों का यह भी आरोप है कि कालोनी में जिन लोगों के नाम से मकान एलाटमेन्ट है। वह लोग नहीं रहते हैं। अधिकांश मकानों में गैर जनपदों के लोग रहते हैं। पुलिस ने यहां रहने वाले एक भी लोगों का सत्यापन भी नहीं कराया। आये दिन काशीराम कालोनी के आसपास के गांवों सहित कालोनियों में आपराधिक घटनाएं होती है और पुलिस कुछ नहीं कर पाती है।

कृष्णानगर में मिले महिला के टुकड़े से जुड़ा हो सकता है धड़

पारा के नरपतखेड़ा इलाके में रविवार की सुबह मिला महिला का धड़ शनिवार को कृष्णानगर के राम मनोहर लोहिया विधिक विवि के पास बैग में मिले महिला सिर, पैर और हाथ से जुड़ा हो सकता है। पुलिस के अधिकारी भी इस बात को मान कर छानबीन कर रहे हैं। फिलहाल कृष्णानगर में मिले महिला के शरीर के हिस्सों की अब तक पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस की टीमें महिला की शिनाख्त की कोशिश में लगी हैं।

फुटेज में दिख रहे युवक की अब तक पहचान नहीं

कृष्णानगर इलाके में बैग में जिस महिला का शव मिला था, उस बैग को लेकर हत्यारा पराग चौराहे की तरफ से आया था। करीब 50 मिनट तक वह लाश से भरा बैग लेकर घूमते हुए फुटेज में देखा गया है। युवक ब्राउन बैग टांगे पराग चौराहे से मामा की पुलिया होते हुए शनि धाम मंदिर की तरफ जाते हुए देखा गया था। शनिवार से लेकर अब तक पुलिस बैग टांगे युवक की पहचान नहीं कर सकी है। फुटेज में बैग में महिला के शरीर के टुकेड़ लेकर घूम रहे युवक के एक पैर में चोट भी लगी, जिसकी वजह से वह लंगड़ा कर चलता दिखा। फिलहाल वह युवक कौन है, उसकी पहचान होनी अभी बाकी है।

धड़ और शरीर के टुकड़ों का कराया जायेगा डीएनए टेस्ट

कृष्णानगर इलाके में शनिवार महिला के सिर, हाथ व पैर का पारा इलाके में रविवार में मिला धड़ एक ही महिला का है या नहीं, इसके लिए डीएनए टेस्ट कराया जायेगा। धड़े और शरीर के टुकड़ों की डीएनएन रिपोर्ट मिलान होने पर यह बात साफ हो जायेगी कि कृष्णानगर और पारा में महिला शरीर के अंग एक ही महिला के थे। वहीं एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि महिला की पहचान के लिए पुलिस की तीन टीमें बनायी गयी हैं। इन टीमों की जिम्मेदारी सीओ क्राइम, सीओ कृष्णानगर और डीसीआरबी प्रभारी को दी गयी है। अब तक पुलिस 50 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली जा चुकी है। वहीं लगभग 100 सिपाहियों को घटनास्थल के पास के मोहल्लों में महिला की शिनाख्त के लिए लगाया गया है। इसके अलावा डीसीआरबी प्रभारी को पूरे लखनऊ जोन से गुमशुदा और अपहृत महिलाओं की सूची भी तैयार की जा रही है।

8 किमी तक लाश टांग घूमता रहा हत्यारा

पैर से लंगड़ा कर चलने वाला हत्यारा 24 घंटे में 8 किमी तक लाश को टांग कर शहर में खुलेआम घूमता रहा। कृष्णानगर के राम मनोहर लोहिया लॉ कॉलेज के सामने पार्क के बाहर बैच में बैग मिला था। बैग में महिला का कटा हुआ सिर, हाथ व पैर थे। वहां से करीब 7 से 8 किमी की दूरी है पारा के न्यू कांशीराम आवास योजना की दूरी। इस दौरान वहां कृष्णानगर थाना, पारा का पुराना थाना समेत कई पुलिस चौकियों, गलियों व हाईवे है ऐसे में पुलिस कितनी सक्रिय है, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *